मुख्य समाचारराज्य

डब्ल्यूएचओ ने किया योगी सरकार के कोविड-19 प्रबंधन की तारीफ

लखनऊ। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने मंगलवार को भारत के उत्तर प्रदेश में कोविड पर प्रभावी नियंत्रण को लेकर उठाये गए कदम के लिए जमकर तारीफ की है। संक्रमण की चेन को तोड़ने के लिए प्रदेश में योगी सरकार द्वारा घर-घर जाकर कोरोना संक्रमण को लेकर जानकारी इकट्ठा करना, त्वरित समाधान को लेकर उठाये गए कदम का डब्ल्यूएचओ कायल हो गया है। संगठन मान रहा है कि संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए सरकार का कदम अत्यंत महत्वपूर्ण है। वहीं, सरकार के माइक्रो प्लानिंग का भी समर्थन किया है। बता दें कि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश पर शहरी व ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर जाकर कोविड-19 से संक्रमितों को खोजा जा रहा है। संक्रमण की चेन तोड़ने के लिए गांव-गांव टेस्टिंग का महाअभियान चल रहा है। निगरानी समितियां घर-घर जाकर स्क्रीनिंग कर रही हैं। होम आइसोलेशन मरीजों को मेडिकल किट उपलब्ध कराए जा रहे हैं। लक्षणयुक्त लोगों के बारे में आरआरटी को सूचना देकर उनका एंटीजन टेस्ट कराया जा रहा है।

ट्वीट करके विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा कि भारत के सबसे बड़े राज्य उत्तर प्रदेश में संक्रमण को रोकने के लिए वहां की सरकार ग्रामीण क्षेत्रों में घर-घर जाकर कोरोना संक्रमितों को खोज रही है। इसके तहत लक्षणयुक्त लोगों की टेस्टिंग की जा रही है। उन्होंने कहा कि उत्तर प्रदेश सरकार ने राज्य के स्वास्थ्य विभाग से 1,41,610 टीमों और 21,242 पर्यवेक्षकों को तैनात किया है। ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि सभी ग्रामीण क्षेत्रों में कोविड से जुड़े केसों को खोजा जा सके। विश्व स्वास्थ्य संगठन ने कहा है कि वे कोविड ट्रेसिंग प्रक्रिया का सपोर्ट करते हैं। उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश में कोरोना कर्फ्यू लागू है। इस दौरान सैनिटाइजेशन भी किया जा रहा है। प्रदेश में 17 मई तक कोरोना कर्फ्यू लागू रहेगा। इस दौरान जरूरी सेवाएं बहाल रहेंगी।

Related Articles