‘ट्रेजेडी किंग’ दिलीप कुमार का निधन, शाम पांच बजे होगा अंतिम संस्कार

राष्ट्रपति कोविंद, पीएम मोदी समेत अन्य हस्तियों ने जताया शोक

मुंबई : अपनी लाज़वाब अदाकारी से भारतीय सिनेमा में अमिट छाप छोड़ने वाले दिग्गज अभिनेता दिलीप कुमार का लंबी बीमारी के बाद बुधवार की सुबह मुंबई के एक अस्पताल में निधन हो गया। उनके परिवार के सदस्यों और उनका इलाज कर रहे चिकित्सकों ने यह जानकारी दी। हिंदी फिल्म जगत में ‘ट्रेजेडी किंग’ के नाम से मशहूर दिलीप कुमार 98 वर्ष के थे। वह पिछले मंगलवार से यहां स्थित हिंदुजा अस्पताल की गैर-कोविड गहन चिकित्सा इकाई (आईसीयू) में भर्ती थे। उनके आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर जानकारी दी गई कि अभिनेता का अंतिम संस्कार शाम पांच बजे सांताक्रूज मुंबई के जुहू कब्रिस्तान में किया जाएगा। उनका इलाज कर रहे डॉ. जलील पारकर ने बताया, लंबी बीमारी के कारण सुबह साढ़े सात बजे उनका निधन हो गया। कुमार के परिवार में उनकी पत्नी एवं अदाकारा सायरा बानो है।

दिलीप कुमार के पारिवारिक मित्र फैसल फारूकी ने अभिनेता के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट पर सुबह आठ बजकर एक मिनट पर लिखा, भारी मन और बेहद दु:ख के साथ, मैं यह घोषणा कर रहा हूं कि कुछ मिनट पहले हमारे प्यारे दिलीप साहब का निधन हो गया। हम अल्लाह के बंदे हैं और हमें उनके पास ही लौटकर जाना होता है। कुमार का असली नाम युसूफ खान था। उनका जन्म 11 दिसम्बर 1922 को पेशावर में हुआ था। अदाकारा सायरा बानो के पति दिलीप कुमार को सांस लेने में तकलीफ के कारण पिछले महीने छह जून को भी इसी अस्पताल में भर्ती कराया गया था। उस समय उनके फेफड़ों के बाहर तरल पदार्थ एकत्र हो गया, जिसे चिकित्सकों ने सफलतापूर्वक निकाल दिया था और पांच दिन बाद उन्हें अस्पताल से छुट्टी दे दी गई थी।

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सहित कई हस्तियों ने उनके निधन पर शोक जताया है। राष्ट्रपति ने कुमार के निधन पर शोक जताते हुए ट्वीट किया, दिलीप कुमार उभरते भारत का इतिहास खुद में समेटे थे। अभिनेता के आकर्षण ने सभी सीमाओं को पार किया और पूरे उपमहाद्वीप में उन्हें प्यार मिला। उनके निधन से एक युग का अंत हो गया। दिलीप साहब भारत के दिल में हमेशा जिंदा रहेंगे। उनके परिवार और असंख्य प्रशंसकों के प्रति संवेदनाएं। प्रधानमंत्री मोदी ने ट्वीट किया, दिलीप कुमार जी को सिनेमा जगत के दिग्गज के रूप में याद किया जाएगा। वह अद्वितीय प्रतिभा के धनी थे और इस वजह से सभी पीढ़ियों के दर्शकों के चहेते थे। उनका निधन हमारी सांस्कृतिक दुनिया के लिए नुकसान है। उनके परिवार, मित्रों और असंख्य चाहने वालों के प्रति मेरी संवेदनाएं। कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने ट्वीट किया,दिलीप कुमार जी के परिवार, मित्रों और प्रशंसकों के प्रति मेरी गहरी संवेदना है। भारतीय सिनेमा में उनके अद्भुत योगदान को आने वाली पीढ़ियां याद करेंगी।

मेगास्टार अमिताभ बच्चन ने ट्वीट किया, भारतीय सिनेमा का इतिहास जब भी लिखा जाएगा, वह हमेशा ‘दिलीप कुमार से पहले, और दिलीप कुमार के बाद’ होगा… उनकी आत्मा की शांति के लिए मेरी दुआ और परिवार को इस नुकसान को सहन करने की शक्ति के लिए प्रार्थना। हिंदी फिल्मों के सबसे लोकप्रिय अभिनेताओं में गिने जाने वाले दिलीप कुमार ने 1944 में ‘ज्वार भाटा’ फिल्म से अपने कॅरियर की शुरुआत की थी और अपने पांच दशक लंबे कॅरियर में ‘मुगल-ए-आजम’, ‘देवदास’, ‘नया दौर’ तथा ‘राम और श्याम’ जैसी अनेक हिट फिल्में दीं। वह आखिरी बार 1998 में आई फिल्म ‘किला’ में नजर आए थे।

Related Articles