राज्य

PRV वाहनों ने एक लाख 145 लोगों को मुहैया करायी चिकित्सा सुविधा : एडीजी एलओ

लखनऊ। उत्तर प्रदेश के अपर पुलिस महानिदेशक, कानून व्यवस्था (एडीजी एलओ) प्रशांत कुमार ने मंगलवार यह कहा कि कोरोना की गंभीरता से निपटने के लिए जहां पुलिस अपना सम्पूर्ण प्रयास कर रही है। वहीं, यूपी-112 के पीआरवी वाहनों ने कानून व्यवस्था संबंधित सूचनाओं को कार्रवाई करने के साथ-साथ जनता की सेवा करने में कोई कोर कसर नहीं छोड़ी है। एडीजी ने बताया कि एक अप्रैल 2021 से अब तक प्राप्त आकड़ों के मुताबिक कुल एक लाख 145 कॉल करने वालों ने 112 पर फोन करके चिकित्सा सुविधा मांगी गयी है।​ जिस पर तत्काल कार्रवाई करते हुए पुलिस द्वारा मौके पर पहुंचकर स्वयं मदद की हैं और एम्बुलेंस की मुहैया करायी है। इससे एक बहुत ही अच्छा शासन और पुलिस प्रशासन की छवि उभरी। राज्य सरकार द्वारा प्रदेश में सम्पूर्ण लॉकडाउन लगाने के बाद कुल 30 हजार 272 लाउड हेलरों और उपयोग करते हुए पुलिस द्वारा जनता को कोरोना से हराने का आहवान करते हुए लॉकडाउन का पालन करने के लिए लगातार प्रयास किया जा रहा है।

वर्तमान में पूरे प्रदेश में कुल 51 हजार 284 ​कंटोमेंट जोन है तथा 3 हजार 407 बैरिकेटिंग लगायी गयी है। जिन पर 37 हजार 812 पुलिस कर्मी लगातार अपनी जान की परवाह न करते हुए पूरी सुरक्षा के साथ इन कंटोमेंट जोन में रहने वाले सभी नागरिकों की सेवा कर रहे हैं। पुलिस के इन कार्रवाई और जनता के सहयोग से सकरात्मक परिणाम दिख रहे है। प्रदेश में कोरोना संक्रमित लोगों की संख्या लगातार घट रही है। वर्तमान समय में कोरोना बीमारी से निपटने के लिए जहां शासन की ओर से सभी उपाये किए जा रहे हैं। वहीं, समाजद्रोही के लोग इस आपदा के समय में भी जीवन रक्षक दवाएं,ऑक्सीजन सिलेंडर और चिकित्सकीय उपकरणों की कालाबाजारी जैसे कार्य कर रहे है।।

यूपी पुलिस ने ऐसे अपराधियों के खिलाफ लगातार कार्रवाई करते हुए अब तक 146 व्यक्तियों को गिरफ्तार किया गया है। उनके पास से 1253 जीवन रक्षक इंजेक्शन,1337 ऑक्सीजन सिलेंडर, 18 ऑक्सीजन कंसरेटर, 844 ऑक्सीमीटर और अन्य उपकरण कालाबाजारी में जब्त किया गया है। साथ ही साथ 62 लाख 33 हजार 790 रुपये बरामद किए गए है। सभी जिला प्रमुखों को यह निर्देश दिए गए है कि ऐसे घृणित कार्य करने वालों व्यक्तियों के विरूद्ध जांच के बाद एनएसए के तहत कार्रवाई की जाये। वहीं, ऐसे गैंगेस्टर जिन्होंने ऐसे कालाबाजारी करके धन अर्जित किया है उनकी सम्पत्तियां जब्त की जाये।

Related Articles