स्पोर्ट्स

मेजबान यूपी व दिल्ली की टीम ने जीता संयुक्त कांस्य पदक

आर्यावर्त स्पोर्ट्स अकादमी और हरियाणा के मध्य होगा फाइनल मुकाबला

43वीं जूनियर बालिका हैंडबॉल चैंपियनिशप

कानपुर : मेजबान उत्तर प्रदेश की टीम ने 43वीं राष्ट्रीय जूनियर बालिका हैंडबॉल चैंपियनिशप में चौथे दिन कांस्य पदक अपने नाम किया। इस चैंपियनशिप में मेजबान लड़कियों को दिल्ली के साथ संयुक्त कांस्य पदक प्रदान कर सम्मानित किया गया। कानपुर के ग्रीन पार्क स्टेडियम में खेली जा रही इस चैंपियनशिप में शनिवार को पहले सेमीफाइनल में हरियाणा ने मेजबान यूपी को रोमांचक मैच में 30-27 से मात्र तीन गोल से मात दी। इस मैच में दोनों ही टीमें हॉफ टाइम तक 14-14 से बराबरी पर थी लेकिन हरियाणा की लड़कियों ने दूसरे हॉफ में तेजी दिखाकर जीत अपनी झोली में डाल ली। हरियाणा की ओर से मोनिका ने आठ गोल जबकि गौरव ने सात गोल दागे। यूपी से राधना व आराधना ने सात-सात गोल किए। यूपी की टीम पिछली बार पांचवें स्थान पर थी और इस बार टीम ने अपने प्रदर्शन में सुधार करते हुए पदक जीता।

दूसरे सेमीफाइनल में आर्यावर्त स्पोर्ट्स अकादमी ने दिल्ली को 35-28 से हराया। विजेता टीम हॉफ टाइम तक 19-15 गोल से आगे थी। आर्यावर्त अकादमी की ओर से दीपशिखा, मिताली व भावना ने आठ-‘आठ गोल किए। दिल्ली से सोनम ने 11 गोल किए। सेमीफाइनल में हार के चलते यूपी व दिल्ली की टीम को कांस्य पदक मिला जबकि फाइनल मुकाबला कल आर्यावर्त स्पोर्ट्स अकादमी और हरियाणा के मध्य खेला जाएगा। पुरस्कार वितरण समारोह में मुख्य अतिथि महेंद्र कुमार (मुख्य विकास अधिकारी), विशिष्ट अतिथि सुरेंद्र सिंह (जीएसटी कमिश्नर) और नितिन टंडन (समाजसेवी) ने कांस्य पदक विेजेता टीमों को पुरस्कृत किया। उत्तर प्रदेश हैंडबॉल एसोसिएशन के महासचिव डा.आनन्देश्वर पाण्डेय ने अतिथिगण को धन्यवाद ज्ञापित किया। इससे पहले कानपुर हैंडबॉल एसोसिएशन के सचिव रजत आदित्य दीक्षित ने सभी का स्वागत किया। इस अवसर पर हैंडबॉल फेडरेशन ऑफ इंडिया के कोषाध्यक्ष विनय कुमार सिंह भी मौजूद थे।

चैंपियनशिप में पोजीशन
तीसरा स्थान: यूपी व दिल्ली,
पांचवा स्थान: साई
छठां स्थान: राजस्थान,,
सातवां स्थान: पश्चिम बंगाल,
आठवां स्थान: आंध्र प्रदेश

Related Articles