खूब खाएं पेठा, दिल को रखेगा मजबूत : डॉ अजय

खांसी, शुगर, ज्वर, अधिक प्यास लगना, श्वास सर्दी का खतरा भी होता है कम

लखनऊ। राजधानी के पांडेगंज इलाके में रहने वाले वैद्य डॉक्टर अजय ने कोरोना के संकट काल में हृदय को मजबूत रखने के लिए पेठा का सेवन प्रचुर मात्रा में करने को कहा है। डॉ अजय ने बताया कि पेठा कद्दू का दूसरा रूप है और यह वातनाशक है। पेठा के सेवन से हृदय रोग कम होते हैं और नियमित सेवन से ह्रदय रोग नहीं भी होते। वर्तमान परिस्थितियों में हृदय को मजबूत रखना सर्वाधिक जरूरी है। किसी भी स्थिति में हृदय को संक्रमण होने से बचाना आवश्यक है। उन्होंने कहा कि पेठा खाने से तमाम बीमारियां खांसी, शुगर, ज्वर, अधिक प्यास लगना, श्वास सर्दी होने का खतरा कम हो जाता है। उर संधान कारक स्वर को तेज करने वाला, नवजीवन देने वाला है।

उन्होंने कहा कि आयुर्वेद में इसे कुष्मांड अवलेह के रूप में जाना जाता है। पेठा के औषधीय गुणों के कारण ही इसे गुड़ के स्थान पर परोसने की व्यवस्था लागू की गई थी। अभी भी बहुत सारे स्थानों पर पानी के साथ गुड़ की जगह पेठा ही दिया जाता है उन्होंने अपील करते हुए कहा कि कोरोना संकटकाल में किसी भी स्थिति में स्वयं को बचाने के लिए मास्क अवश्य पहने। समय-समय पर हाथ धोते रहें, अपने नाक आंख को ना छुए। गरम पानी और नींबू के रस का सेवन अवश्य करें। दिन में दो से चार बार पेठा का भी सेवन करें।

Related Articles