मुख्य समाचारराज्य

अखिलेश पर भड़के सीएम योगी, कहा- कोरोना के विरुद्ध लड़ाई को किया कमजोर

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगलवार को प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री व सपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव को खरी-खरी सुना दी। बिना नाम लेते हुए कहा कि प्रदेश के एक पूर्व मुख्यमंत्री ने यह कहकर कि ‘यह भाजपा की वैक्सीन है और वह वैक्सीन नहीं लगवाएंगे’, जनता को गुमराह करने व कोरोना के विरुद्ध इस लड़ाई को कमजोर करने का कुप्रयास किया। बतादें कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा ने मंगलवार को एक खुला पत्र कांग्रेस की अंतरीम अध्यक्ष सोनिया गांधी को लिखा है, जिसमें कोरोना के खिलाफ लड़ाई में ​कांग्रेस के असहयोग का उल्लेख किया है। इसी पत्र को आड़े हाथों लेते हुए मुख्यमंत्री योगी ने कांग्रेस के साथ ही पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर भी हमला बोला है। योगी ने कहा कि भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्डा ने कांग्रेस की राष्ट्रीय अध्यक्ष को पत्र लिखकर साफ-साफ बताया है कि किस तरह कोविड के खिलाफ लड़ाई को कांग्रेस के शीर्ष नेताओं द्वारा सुनियोजित दुष्प्रचार द्वारा कमजोर किया जा रहा है। कोरोना महामारी के विरुद्ध संघर्ष को शिथिल करने की कांग्रेस की कूटरचना उसकी जनविरोधी प्रवृत्ति को प्रकट करती है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि आज पूरा देश आदरणीय प्रधानमंत्री के साथ है और उनके नेतृत्व में कोरोना से लड़ रहा है उस समय कांग्रेस के नेताओं का दुष्प्रचार उनकी कुटिल मनोवृत्ति का परिचायक है। उन्होंने कहा कि मैं सभी को आश्वस्त करना चाहता हूं कि कोविड के विरुद्ध इस युद्ध में हम सब मिलकर शीघ्र विजयी होंगे। भाजपा के राष्ट्रीय उपाध्यक्ष व प्रदेश मीडिया प्रभारी राधामोहन सिंह ने कहा कि अफवाह फैलाना कांग्रेस के डीएनए में है। विपत्ति के समय सहयोग की बजाय लोगों को भड़काकर देश को अशांति की ओेर ले जाने का ही काम किया है। उन्होंने कहा कि कांग्रेस ने भारत की वैक्सीन को बेकार बताने का जतन किया। उल्लेखनीय है कि इसी वर्ष बीते 02 जनवरी को अखिलेश ने कहा था कि मैं तो अभी वैक्सीन नहीं लगवाऊंगा। हम बीजेपी की वैक्सीन नहीं लगवाएंगे। मुझे बीजेपी की वैक्सीन पर भरोसा नहीं है। इसी बयान को लेकर मुख्यमंत्री योगी ने ​अखिलेश पर हमला बोला है। सीएम योगी का मानना है कि अखिलेश के इस बयान ने कोरोना के खिलाफ लड़ाई को कमजोर किया है।

Related Articles