एशियन किड्स और अरिस्टो क्लास ने ऑनलाइन राष्ट्रीय फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता का किया आयोजन

लखनऊ : फैंसी ड्रेस प्ले सिर्फ भौतिक रूप से एक पोशाक पहनने से अधिक है। जब “चरित्र में”, बच्चे भूमिका निभाते हैं तो उससे वो रोल प्ले करना सीखते हैं। एशियन किड्स ने 2 से 7 वर्ष की आयु के छात्रों के लिए एक ऑनलाइन राष्ट्रीय फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता का आयोजन किया। भारत के विभिन्न राज्यों के छात्रों अर्थात् कर्नाटक, तमिलनाडु, कोयंबटूर, महाराष्ट्र, राजस्थान, नई दिल्ली और यूपी ने भाग लिया और स्कूलों जैसे दिल्ली पब्लिक स्कूल, सिटी मॉन्टेसरी स्कूल, सिटी इंटरनैशनल स्कूल, अपीजय स्कूल, फादर एग्नेल स्कूल आदि के छात्रों ने भाग लिया।

प्रतियोगिता के विशेष अतिथि भारती गांधी, सिटी मोंटेसरी स्कूल लखनऊ के संस्थापक निदेशक ने प्रतिभागियों को प्रोत्साहित किया और पैरेंट्स को बताया कि इस तरह के कॉन्टेस्ट बच्चे के समग्र भावनात्मक विकास में सुधार करते हैं और भाषण विकास में मदद करते हैं। मिस सलोनी अग्रवाल, मिसिस इंडिया 2017 कार्यक्रम की मुख्य अतिथि रहीं। एक मजबूत प्रदर्शन वह है जिसमें चरित्र का अर्थ शक्तिशाली रूप से दर्शकों को स्पष्ट रूप से व्यक्त किया जाता है। यह अलग-अलग स्कूलों के छात्रों द्वारा खूबसूरती से प्रदर्शित किया गया। उन्होंने सभी को अपनी अभिव्यक्ति और वेशभूषा के साथ उत्साहित किया और एक दूसरे को कठिन टक्कर दी। छात्रों को एक्सप्रेशन, आत्मविश्वास, आदि के आधार पर जज किया गया और जजेस ने उनके प्रदर्शन की सराहना की।

एशियन किड्स के संस्थापक निदेशक शाहाब हैदर ने कहा, इस राष्ट्रीय फैंसी ड्रेस प्रतियोगिता का उद्देश्य बच्चों को अपनी प्रतिभा और कौशल दिखाने का मौका प्रदान करना है। इस तरह की प्रतियोगिता में भाग लेना जहां विभिन्न राज्यों के विभिन्न स्कूलों के छात्र विभिन्न क्षेत्रों और संस्कृति के साथ भाग लेते हैं, जिससे बच्चों को हमारे हमारे महान राष्ट्र की संस्कृति तथा विभिन्नता की जानकारी हो सके और उन्हें हमारे सामाजिक ताने-बाने को समझने में भी मदद मिल सके।

Related Articles